Sad Shayari वक़्त वक़्त की बात है

वक़्त वक़्त की बात है वर्ना वही दिन रात है
जो कल तक हमारे पास थे आज सात समंदर पार है ||

Sad Love Shayari शिकवा अपने मुकद्दर से नहीं

शिकवा अपने मुकद्दर से नहीं अपने दिल से है

जो उनकी इजाज़त के बिना ही उन पर मर मिटा

उनकी भी कोई खता नहीं जो उनसे कुछ कहे हम

कौन उनके लिए दिन रात तरसता है उनको नहीं पता ||

bewafa shayari padh raha hun main

Bewafa Shayari पढ़ रहा हूँ मै

पढ़ रहा हूँ मै

इश्क़ की किताब ऐ दोस्तों

ग़र बन गया वकील तो

बेवफाओं की खैर नही ||

dard shayari wo raat hi kya

Dard Shayari वो रात ही क्या जो अँधेरी न हो

वो रात ही क्या जो अँधेरी न हो

वो चाँद ही क्या जिसमे दाग न हो

वो दिल ही क्या जिसमे दर्द ही न हो

वो मोहब्बत ही क्या जो मुक्कमल न हो ||

bewafa shayari jo na hote tujhse dur

Bewafa Shayari जो न होते तुझसे दूर सारी खुशियां लुटा देता

जो न होते तुझसे दूर सारी खुशियां लुटा देता

तेरी एक मुस्कान पे खुद को मिटा देता

एक बार बयां तोह करती तेरे लिए साँसे घटा देता ||

dard shayari dard me koi mausom pyara nahi

Dard Shayari दर्द में कोई मौसम प्यारा नहीं होता

दर्द में कोई मौसम प्यारा नहीं होता

दिल हो प्यासा तो पानी से गुजारा नहीं होता

कोई तो देखे हमारी बेबसी पर कोई हमारा नहीं होता ||

sharabi shayari ab ke sawan me sab ka

Sharabi Shayari अब के सावन में सबका हिसाब कर दूंगा

अब के सावन में सबका हिसाब कर दूंगा

जिसका जो वाकी है वो भी हिसाब कर दूंगा

और मुझे इस गिलास में ही कैद रख वरना

पूरे शहर का पानी शराब कर दूंगा ||

miss you shayari ruthne ka hak hai

Miss You Shayari रुठने का हक हैं तुझे, पर वजह बताया कर

रुठने का हक हैं तुझे, पर वजह बताया कर

खफा होना गलत नहीं, तू खता बताया कर ||

sad shayari wo sath

Sad Shayari वो साथ थे तो

वो साथ थे तो

एक लफ़्ज़ ना निकला

लबों से

दूर क्या हुए

कलम ने क़हर मचा दिया ||

sad shayari ab ye na puchna ki ye

Sad Shayari अब ये न पूछना की

अब ये न पूछना की

ये अल्फ़ाज़ कहाँ से लाता हूँ

कुछ चुराता हूँ दर्द दूसरों के

कुछ अपनी सुनाता हूँ ||