sad shayari sath nibhane ka wada

Sad Shayari साथ निभाने का वादा तूने भी

साथ निभाने का वादा तूने भी किया था

साथ निभाने का वादा मैंने भी किया था

तेरा वादा जो टूटा तो फर्क बस इतना था

तूने वादा मुझसे किया था

मैंने वादा खुद से किया था ||

sad shayari kasme wadoon ka kya

Sad Shayari कसमे वादों का क्या करूँ

कसमे वादों का क्या करूँ

जहाँ अलग है हमारे

फिर न तुझे मुझे आबाद करने की चाहत है कोई

न मुझे तुझे बर्बाद करने की हसरत है कोई ||

sad shayari chahate thin bahut

Sad Shayari चाहतें थी बहुत मगर तुमसे

चाहतें थी बहुत मगर तुमसे मैं क्या कहूँ

हसरतें थी बहुत मगर तुमसे मैं क्या कहूँ ||

Miss You Shayari वो वक़्त और था वो बात

वो वक़्त और था वो बात और थी
वो दिन दुसरे थे वो रात और थी

मस्ती भरी पवन थी मदमस्त फूल थे
हर तरफ नूर था हर तरफ मौज थी

वो दिन दुसरे थे वो रात और थी
लेकर उसे चमन में हम घुमते रहते थे

जिस दिन न मिले वो हम ढूँढ़ते रहते थे
उस वक़्त वो उसकी तलाश और थी

वो दिन दुसरे थे वो रात और थी ||

Sad Shayari आज हद हो गयी प्यार

आज हद हो गयी प्यार की

और तेरे इंतज़ार की

तुम आयी न वादा करके

घडी गुज़र गयी बहार की ||

Love Shayari नज़रे चुराने की ज़रूरत नहीं

नज़रे चुराने की ज़रूरत नहीं

हम हर रुख की बात जानते हैं

तुम जुबां से कुछ कहो न कहो

हम तुम्हारे दिल की बात जानते हैं ||

Sad Shayari वफ़ा को जफ़ा ही मिला

वफ़ा को जफ़ा ही मिला करती है

आशिक़ को तो सजा ही मिला करती है

धोके में जी रहे है ज़माने में आशिक़

असली मोहब्बत तो किस्मत से मिला करती है ||

Sad shayari अपनी हर सांस पर उनको

अपनी हर सांस पर उनको जिया करते थे

हम तो जुदाई का भी ग़म पिया करते थे

हम जानते थे की वो बेवफा है मगर

फिर भी मुस्कुरा कर उनका वेलकम किया करते थे ||