Sad Love Shayari शिकवा अपने मुकद्दर से नहीं

शिकवा अपने मुकद्दर से नहीं अपने दिल से है

जो उनकी इजाज़त के बिना ही उन पर मर मिटा

उनकी भी कोई खता नहीं जो उनसे कुछ कहे हम

कौन उनके लिए दिन रात तरसता है उनको नहीं पता ||

love shayari ek tu aur teri awaj yaad aayegi

Love Shayari एक तू तेरी आवाज़ याद आएगी

एक तू तेरी आवाज़ याद आएगी

तेरी कही हुवी हर बात याद आएगी

दिन ढल जायेगा रात याद आएगी

हर लम्हा पहली मुलाकात याद आएगी ||

miss you shayari ruthne ka hak hai

Miss You Shayari रुठने का हक हैं तुझे, पर वजह बताया कर

रुठने का हक हैं तुझे, पर वजह बताया कर

खफा होना गलत नहीं, तू खता बताया कर ||

miss you shayari wo meri har dua

Miss You Shayari वो मेरी हर दुआ में शामिल था

वो मेरी हर दुआ में शामिल था

जो किसी और को बिन मांगे मिल गया ||

love shayari jaroori kaam hai

Love Shayari ज़रूरी काम है लेकिन रोज़ाना भूल जाता हूँ

ज़रूरी काम है लेकिन रोज़ाना भूल जाता हूँ

मुझे तुम से मोहब्बत है बताना भूल जाता हूँ

तेरी गलियों में फिरना इतना अच्छा लगता है

मैं रास्ता याद रखता हूँ ठिकाना भूल जाता हूँ

बस इतनी बात पर मैं लोगों को अच्छा नहीं लगता

मैं नेकी कर तो देता हूँ, जताना भूल जाता हूँ ||

love shayari kitna wakif thi

Love Shayari कितना वाकिफ थी

कितना वाकिफ थी

वो मेरी कमजोरी से

वो रो देती थी

और मैं हार जाता था ||

love shayari utar ke dekh meri

Love Shayari उतर के देख मेरी चाहत की गहराई मै

उतर के देख मेरी चाहत की गहराई में

सोचना मेरे बारे मै रात की तन्हाई में

अगर हो जाए मेरी चाहत का एहसास तुम्हे

तो मिलेगा मेरा अक्स तुम्हे अपनी ही परछाई में ||

Miss U Shayari उनके होंठो पे मेरा नाम जब

उनके होंठो पे मेरा नाम जब आया होगा

खुदको रुसवाई से फिर कैसे बचाया होगा

सुनके फ़साना औरो से मेरी बर्बादी का

क्या उनको अपना सितम न याद आया होगा ||

Miss U Shayari तुझे भुलाते-भुलाते फ़िर न जाने

तुझे भुलाते-भुलाते फ़िर न जाने क्यूँ ।

याद आई बातें तमाम हमेशा की तरह ।।

Miss U Shayari लोगों की भीड़ में तो मालूम नही

लोगों की भीड़ में तो मालूम नही होता

मगर तन्हाई मुझे बहुत सता जाती है

आप तो आते नही हो बुलाने पर भी

आपकी याद ना जाने क्यू चली आती है ||