sad shayari sath nibhane ka wada

Sad Shayari साथ निभाने का वादा तूने भी

साथ निभाने का वादा तूने भी किया था

साथ निभाने का वादा मैंने भी किया था

तेरा वादा जो टूटा तो फर्क बस इतना था

तूने वादा मुझसे किया था

मैंने वादा खुद से किया था ||

sad shayari kasme wadoon ka kya

Sad Shayari कसमे वादों का क्या करूँ

कसमे वादों का क्या करूँ

जहाँ अलग है हमारे

फिर न तुझे मुझे आबाद करने की चाहत है कोई

न मुझे तुझे बर्बाद करने की हसरत है कोई ||

sad shayari dekh kar kisi ko

Sad Shayari देख के किसी को

देख के किसी को

याद किया किसी को

इश्क़ खता थी किसी की

बर्बाद किया किसी को ||

sad shayari mujhe intzaar tha

Sad Shayari मुझे इंतज़ार था

मुझे इंतज़ार था

मुझे इंतज़ार है

मुझे इंतज़ार रहेगा

तेरे लौट आने तक

या

मेरे जान से जाने तक ||

sad shayari chahate thin bahut

Sad Shayari चाहतें थी बहुत मगर तुमसे

चाहतें थी बहुत मगर तुमसे मैं क्या कहूँ

हसरतें थी बहुत मगर तुमसे मैं क्या कहूँ ||

Sad Shayari वफ़ा को जफ़ा ही मिला

वफ़ा को जफ़ा ही मिला करती है

आशिक़ को तो सजा ही मिला करती है

धोके में जी रहे है ज़माने में आशिक़

असली मोहब्बत तो किस्मत से मिला करती है ||

Sad shayari अपनी हर सांस पर उनको

अपनी हर सांस पर उनको जिया करते थे

हम तो जुदाई का भी ग़म पिया करते थे

हम जानते थे की वो बेवफा है मगर

फिर भी मुस्कुरा कर उनका वेलकम किया करते थे ||

sad shayari ye jindgi tere liye

Sad Shayari ये ज़िन्दगी तेरे लिए हंस के

ये ज़िन्दगी तेरे लिए हंस के बहुत मैं जिन्दा रही

अब कोई तो बजह दे मुस्कराकर जीने की ||

By : Shriya Gupta

bewafa shayari chodd kar jin

Bewafa Shayari छोड़ कर जिन बेवफाओ को

छोड़ कर जिन बेवफाओ को जाना होता है

नाराज़गी तो बस उनका एक बहाना होता है ||

By : Shriya Gupta

bewafa shayari mujhko bewafa banakar

Bewafa Shayari मुझको बेवफा बनाकर जाने वाले

मुझको बेवफा बनाकर जाने वाले

मुझसे वफ़ा का अब ख्वाब न रख

मैं तो डूब ही चुकी थी तुझमे

मेरे फिर डूबने का ख्वाब न रख

और मुझको साहिल पर तनहा छोड़के जाने वाले

औकात में जरा अपनी मजाल को रख ||

By : Shriya Gupta