sad shayari dekh kar kisi ko

Sad Shayari देख के किसी को

देख के किसी को

याद किया किसी को

इश्क़ खता थी किसी की

बर्बाद किया किसी को ||

bewafa shayari chodd kar jin

Bewafa Shayari छोड़ कर जिन बेवफाओ को

छोड़ कर जिन बेवफाओ को जाना होता है

नाराज़गी तो बस उनका एक बहाना होता है ||

By : Shriya Gupta

bewafa shayari mujhko bewafa banakar

Bewafa Shayari मुझको बेवफा बनाकर जाने वाले

मुझको बेवफा बनाकर जाने वाले

मुझसे वफ़ा का अब ख्वाब न रख

मैं तो डूब ही चुकी थी तुझमे

मेरे फिर डूबने का ख्वाब न रख

और मुझको साहिल पर तनहा छोड़के जाने वाले

औकात में जरा अपनी मजाल को रख ||

By : Shriya Gupta

bewafa shayari mili thi tujhse

Bewafa Shayari मिली थी तुझसे पहली बार

मिली थी तुझसे पहली बार देखने को

खुदा कैसा होता है

चाहती हूँ मिलना फिर एक बार देखने को

बेवफा कैसा होता है ||

bewafa shayari mujhse teri jafa

Bewafa Shayari मुझसे तेरी जफ़ा कोई तेरी

मुझसे तेरी जफ़ा कोई तेरी खता नही

खुदा ने बनाया ही हमे ऐसा है

मेरी किस्मत में वफ़ा नही

और तेरी फितरत में वफ़ा नही ||

By : Shriya Gupta

bewafa shayari wafa ki kadar na pahle

Bewafa Shayari वफ़ा की कदर न पहले थी

वफ़ा की कदर न पहले थी न आज है

कुछ बदला तो फकत इतना की

अब टूट कर चाहने वाले बस एकाद है ||

By : Shriya Gupta

bewafa shayari padh raha hun main

Bewafa Shayari पढ़ रहा हूँ मै

पढ़ रहा हूँ मै

इश्क़ की किताब ऐ दोस्तों

ग़र बन गया वकील तो

बेवफाओं की खैर नही ||

bewafa shayari jo na hote tujhse dur

Bewafa Shayari जो न होते तुझसे दूर सारी खुशियां लुटा देता

जो न होते तुझसे दूर सारी खुशियां लुटा देता

तेरी एक मुस्कान पे खुद को मिटा देता

एक बार बयां तोह करती तेरे लिए साँसे घटा देता ||

sharabi shayari ab ke sawan me sab ka

Sharabi Shayari अब के सावन में सबका हिसाब कर दूंगा

अब के सावन में सबका हिसाब कर दूंगा

जिसका जो वाकी है वो भी हिसाब कर दूंगा

और मुझे इस गिलास में ही कैद रख वरना

पूरे शहर का पानी शराब कर दूंगा ||

love shayari kyoun karte ho mujhse

Love Shayari क्यूँ करते हो मुझसे

क्यूँ करते हो मुझसे

इतनी ख़ामोश मुहब्बत

लोग समझते है

इस बदनसीब का कोई नहीँ ||