sad shayari mujhe intzaar tha

Sad Shayari मुझे इंतज़ार था

मुझे इंतज़ार था

मुझे इंतज़ार है

मुझे इंतज़ार रहेगा

तेरे लौट आने तक

या

मेरे जान से जाने तक ||

Miss You Shayari वो वक़्त और था वो बात

वो वक़्त और था वो बात और थी
वो दिन दुसरे थे वो रात और थी

मस्ती भरी पवन थी मदमस्त फूल थे
हर तरफ नूर था हर तरफ मौज थी

वो दिन दुसरे थे वो रात और थी
लेकर उसे चमन में हम घुमते रहते थे

जिस दिन न मिले वो हम ढूँढ़ते रहते थे
उस वक़्त वो उसकी तलाश और थी

वो दिन दुसरे थे वो रात और थी ||

Romantic Comedy Shayari सनम इस जनम में

सनम इस जनम में

तू ही तो है एक फूल हमारे चमन में

देखते हैं जब जब तुझको

खलबली मच जाती है पूरे बदन में ||

Love Shayari नज़रे चुराने की ज़रूरत नहीं

नज़रे चुराने की ज़रूरत नहीं

हम हर रुख की बात जानते हैं

तुम जुबां से कुछ कहो न कहो

हम तुम्हारे दिल की बात जानते हैं ||

Sad Shayari वफ़ा को जफ़ा ही मिला

वफ़ा को जफ़ा ही मिला करती है

आशिक़ को तो सजा ही मिला करती है

धोके में जी रहे है ज़माने में आशिक़

असली मोहब्बत तो किस्मत से मिला करती है ||

Sad shayari अपनी हर सांस पर उनको

अपनी हर सांस पर उनको जिया करते थे

हम तो जुदाई का भी ग़म पिया करते थे

हम जानते थे की वो बेवफा है मगर

फिर भी मुस्कुरा कर उनका वेलकम किया करते थे ||

Sad Love Shayari कब तक मिला के नज़रे

कब तक मिला के नज़रे चुराती रहोगी

कब तक तुम हमें आज़माती रहोगी

ले जाओ दिल हमारा आशिक़ है ये तुम्हारा

बाते बनाके कबतक इसे बहलाती रहोगी ||