bewafa shayari padh raha hun main

Bewafa Shayari पढ़ रहा हूँ मै

पढ़ रहा हूँ मै

इश्क़ की किताब ऐ दोस्तों

ग़र बन गया वकील तो

बेवफाओं की खैर नही ||

bewafa shayari jo na hote tujhse dur

Bewafa Shayari जो न होते तुझसे दूर सारी खुशियां लुटा देता

जो न होते तुझसे दूर सारी खुशियां लुटा देता

तेरी एक मुस्कान पे खुद को मिटा देता

एक बार बयां तोह करती तेरे लिए साँसे घटा देता ||

bewafa shayari aag dil me agi jab

Bewafa Shayari आग दिल में लगी जब वो खफ़ा हुए

आग दिल में लगी जब वो खफ़ा हुए

महसूस हुआ तब, जब वो जुदा हुए

करके वफ़ा कुछ दे ना सके वो

पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफ़ा हुए ||

Dard Shayari तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है

तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है

जिसका रास्ता बहुत खराब है

मेरे ज़ख्म का अंदाज़ा न लगा

दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है ||

Dard Shayari नया दर्द एक और दिल में जगा कर चला गया

नया दर्द एक और दिल में जगा कर चला गया

कल फिर वो मेरे शहर में आकर चला गया

जिसे ढूंढ़ता रहा मैं लोगों की भीड़ में

मुझसे वो अपने आप को छुपा कर चला गया ||

Dard Shayari तेरे रोने से उन्हें कोई

तेरे रोने से उन्हें कोई

फर्क नहीं पड़ता ऐ दिल

जिनके चाहने वाले ज्यादा हो

वो अक्सर बे दर्द हुआ करते हैं ||

Dard Shayari मुझको ऐसा दर्द मिला जिसकी दवा नहीं

मुझको ऐसा दर्द मिला जिसकी दवा नहीं

फिर भी खुश हूँ मुझे उस से कोई गिला नहीं

और कितने आंसू बहाऊँ उस के लिए

जिसको खुदा ने मेरे नसीब में लिखा ही नहीं ||

Sad Shayari उनसे मिलने को जो सोचों

उनसे मिलने को जो सोचों अब वो ज़माना नहीं

घर भी कैसे जाऊं अब तो कोई बहाना नहीं

मुझे याद रखना कहीं तुम भुला न देना

माना के बरसों से तेरी गली में आना-जाना नहीं ||

Dard Shayari सतरंगी अरमानों वाले, सपने दिल में पलते हैं

सतरंगी अरमानों वाले, सपने दिल में पलते हैं

आशा और निराशा की, धुन में रोज मचलते हैं

बरस-बरस के सावन सोंचे, प्यास मिटाई दुनिया की

वो क्या जाने दीवाने तो सावन में ही जलते है ||

Bewafa Shayari रात की गहराई आँखों में उतर

रात की गहराई आँखों में उतर आई

कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई

ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के

कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई ||