dard shayari teri judai ne mujhe

Dard Shayari तेरी जुदाई ने मुझे इश्क का

तेरी जुदाई ने मुझे इश्क का मतलब समझा दिया

तलब तो तेरी पहले भी थी

पर दर्द के इस आलम ने

तेरे दिल मे होने का यकीन दिला दिया ||

अभिनव

Sad Shayari तुम इस हाले दिल की कदर

तुम इस हाले दिल की कदर क्या जानोगी

तुमने कभी आग में उतर कर नहीं देखा

कुछ हंसी मज़ाक कर ली होगी मोहब्बत के नाम पर

तुम्हे देख कर लगता है तुमने इश्क़ नहीं देखा ||

Sad Status मैं अक्सर चुप हो जाता हूँ

मैं अक्सर चुप हो जाता हूँ तेरा नाम आते ही

क्यूंकि पहले ही हम बहुत बदनाम हो चुके हैं ||

hindi poems mukammal kitab hun

Hindi Poems मुक्कमल किताब हूँ

मुक्कमल किताब हूँ

तेरी ही अल्फ़ाज़ हूँ

अधूरा सा खुआब हूँ

पर लाजवाब हूँ

सपनो में जो आई थी

बस जरा सा मुस्कुराई थी

ये देख दिल खुशगवार हुआ

फिर मिलने का जिंदगी भर इंतज़ार हुआ

बे इख़्तेयार प्यार हुआ

न मेरा इज़हार हुआ

न उसका इंकार हुआ

फिर महबूब मेराज हुआ

सारी मोहब्बत एक राज़ हुआ

फिर ये मुकम्मल किताब हुआ ||

Written by:-

Meraj Ibn Sami

sad shayari sath nibhane ka wada

Sad Shayari साथ निभाने का वादा तूने भी

साथ निभाने का वादा तूने भी किया था

साथ निभाने का वादा मैंने भी किया था

तेरा वादा जो टूटा तो फर्क बस इतना था

तूने वादा मुझसे किया था

मैंने वादा खुद से किया था ||

sad shayari kasme wadoon ka kya

Sad Shayari कसमे वादों का क्या करूँ

कसमे वादों का क्या करूँ

जहाँ अलग है हमारे

फिर न तुझे मुझे आबाद करने की चाहत है कोई

न मुझे तुझे बर्बाद करने की हसरत है कोई ||